बिना टेंशन होगी बात, घर के अंदर परेशान नहीं करेगा मोबाइल नेटवर्क

नई दिल्ली। अगर आपको घर के अंदर मोबाइल से बात करने में दिक्कत होती है तो मोबाइल नेटवर्क कंपनियां जल्द ही उनकी इस समस्या का समाधान निकालने वाली हैं। इसकी शुरूआत देश की बड़ी कंपनी एयरटेल ने कर दी है। उसने अपने सभी  दूरसंचार सर्किलों में 900 मेगाहर्ट्ज बैंड में 4जी (4G technology)) तकनीक को एक्टिव कर दिया है।

प्लानिंग के तहत कंपनी सबसे पहले 2जी सेवाओं पर काम रही है। क्योंकि यहीं सबसे ज्यादा नेटवर्क खराब की शिकायतें कंपनी को मिलती हैं। साथ ही इन कस्टमर को बांधकर रखना कंपनी के लिए लगातार चुनौती बनी रहती है। कंपनी का मकसद सभी घरों के अंदर मोबाइल टावर के कवरेज को बेहतर बनाना है।

सूत्रों की मानें तो उसने दिल्ली, कोलकाता, आंध्र प्रदेश, उत्तर पूर्व, कर्नाटक और राजस्थान में 4जी सेवाओं के लिये 900 मेगाहर्ट्ज स्पेक्ट्रम बैंड (Spectrum band) की रीफ्रेमिंग पर काम करना शुरू कर दिया है। कंपनी के अनुसार 3जी सेवाओं को देशभर में को बंद कर दिया है और 4जी के लिये सभी 3G स्पेक्ट्रम को रीफ्रेम करने की प्रक्रिया जारी है। 

नाम उजागर न करने की शर्त पर एक अधिकारी ने बताया कि छोटे शहरों और गांवों में स्मार्टफोन की पैठ बढ़ने के साथ हमारे पास 4जी स्पेक्ट्रम की नीलामी तक इंतजार किये बिना नेटवर्क क्षमता को बढ़ाने का अवसर है।  इसके लिये हम 2जी के कुछ उच्च गुणवत्ता वाले स्पेक्ट्रम को रीफ्रेम कर रहे हैं। यह हमें हमारे नेटवर्क पर 4जी अनुभव को बिलकुल अलग बनाने में मदद कर रहा है।

अधिकारी ने कहा कि भारती एयरटेल ने 10 सर्किलों में 900 मेगाहर्ट्ज स्पेक्ट्रम को मुक्त किया है और अगले 3-4 महीनों में रीफ्रेमिंग प्रक्रिया पूरी होने की उम्मीद है। ओपन सिग्नल की एक हालिया रिपोर्ट के अनुसार, एयरटेल का नेटवर्क डाउनलोड स्पीड, गेमिंग अनुभव और वीडियो अनुभव के मामले में सबसे बढ़िया है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *