उत्तराखंड में पर्यटकों को सरकार ने दी जलक्रीडा, ट्रेकिंग और पर्वतारोहण की अनुमति

नई दिल्ली। कोविड-19 संक्रमण के कारण मंदी से जूझ रहे पयर्टन को उत्तराखंड सरकार ने फिर से शुरू करने का निर्णय लिया है। यहां पर्यटकों को राज्य पर्यटन विभाग ने जलक्रीडा, ट्रेकिंग और पर्वतारोहण, एयरोस्पोर्ट्स और कैम्पिंग गतिविधियों को शूरू किया जा रहा है। जिससे आर्थिक नुकसान की भरपाई की जा सके।

उत्तराखंड में मस्ती करते पर्यटक

उत्तराखंड सरकार ने कोविड  दिशा—निर्देशों के साथ शुक्रवार को साहसिक पर्यटन गतिविधियों को खोले जाने की अनुमति दे दी है। पर्यटन विभाग  ने इसकी जानकारी दी। राज्य पर्यटन विभाग ने जलक्रीडा, ट्रेकिंग और पर्वतारोहण, एयरोस्पोर्ट्स और कैम्पिंग गतिविधियों जैसी साहसिक गतिविधियों को खोलने की अनुमति के साथ ही पर्यटकों और इन गतिविधियों से जुडी एजेंसियों के लिए कोविड-19 से सुरक्षा से संबंधित दिशानिर्देश भी जारी किए हैं। अब एडवेंचर टूर ऑपरेटर या एजेंसी के प्रमुख पर्यटन विभाग और संबंधित जिला प्रशासन के कार्यालयों में आवश्यक अनुमति प्राप्त करने के लिए आवेदन दे सकते हैं।

पर्वतारोहण की गतिविधियों का आनंद लेते पर्यटक

इस संबंध में प्रदेश के पर्यटन सचिव दिलीप जावलकर ने कहा कि साहसिक पर्यटन गतिविधियों को फिर से खोलने से प्रदेश के पर्यटन उघोग को बहुत लाभ होगा। उन्होंने कहा, ‘एडवेंचर टूरिज्म का राज्य के समग्र पर्यटन उद्योग में बड़ा योगदान है। हमें विश्वास है कि एडवेंचर गतिविधियों को फिर से खोलने से राज्य पर्यटन उद्योग को बड़ा फायदा मिलेगा।  हांलांकि, उन्होंने इससे जुडे सभी व्यवसायियों से पूर्ण सहयोग की उम्मीद करते हुए कहा कि सबको एक टीम के रूप में काम करना होगा और राज्य में कोविड महामारी के प्रसार को नियंत्रित करने के लिए नियमों और दिशानिर्देशों का प्रभावी कार्यान्वयन सुनिश्चित करना होगा। दिशा—निर्देशों के अनुसार, एडवेंचर कंपनी, एजेंसी या टूर ऑपरेटर के मालिकों को यह सुनिश्चित करना होगा कि उनके कर्मचारी कोरोनावायरस संक्रमण की रोकथाम के लिए उचित रूप से प्रशिक्षित हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *