आनंद महिन्द्रा, नवीन जिंदल के साथ देश के दिग्गज उद्योगपतियों ने अपने मोबाइल से वॉट्सऐप हटाया 

नई दिल्ली।  वॉट्सऐप का घमंड चकनाचूर करने के लिए देश के बड़े उद्योग घरानों ने शुरुआत कर दी है। इनमें सबसे आगे हैं महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन आनंद महिंद्रा और  जिंदल इंडस्ट्रीज के नवीन जिंदल । इन्होंने अपने मोबाइल से वॉट्सऐप हटा दिया है। इसके बाद देश के कई उद्याेगपतियों ने इनको फॉलोकरते हुए अपने मोबाइल से न सिर्फ वॉट्सऐप हटाया। बल्कि अपनी टीम के लोगों के साथ सभी कर्मचारियों से  वॉट्सऐप की जगह दूसरा एप्प उपयोग में लाने की सलाह दी है। इस पूरी प्रक्रिया से वॉट्सऐप  के कस्टमर तेजी से कम हो रहे हैं। 

बता दें कि  वॉट्सऐप (WhatsApp) की शर्तों के खिलाफ पूरी दुनियाभर में गुस्सा बढ़ रहा है। यूजर्स अपनी निजी जानकारी को लेकर चिंता में हैं। भारत की कई बड़ी कंपनियों और दिग्गज कॉरपोरेट हस्तियां वॉट्सऐप छोड़कर सिग्नल (Signal) जैसे दूसरे मैसेजिंग ऐप काे अपना रही हैं। इनमें नए दौर की स्टार्टअप कंपनियां और पुराने कॉरपोरेट तथा उनके सीनियर लीडर शामिल हैं।

वॉट्सऐप द्वारा हाल में पेमेंट्स सेक्टर में एंट्री की थी। इससे पेटीएम और फोनपे को बड़ा घाटा उठाना पड़ रहा है। अब ये दोनों कंपनियां इस विवाद का फायदा उठाकर जबरदस्त विरोध कर रही हैं।  उन्होंने अपनी टीम्स को वॉट्सऐप छोड़ने के निर्देश दिए हैं। भारत में नवीन जिंदल की कंपनी जिंदल स्टील एंड पावर 15 दिन पहले वॉट्सऐप को बाय-बाय कह चुकी है। महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन आनंद महिंद्रा ने एक सप्ताह पहले सिग्नल इनस्टॉल किया है। टाटा ग्रुप के चेयरमैन एन चंद्रशेखरन पिछले कुछ समय से सिग्नल का इस्तेमाल कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *