PAK की रडार से बचने वाली पहली क्रूज मिसाइल ‘बाबर’, भारत के लिए बनी खतरा

पाकिस्तान ने सोमवार को पहली बार परमाणु आयुध ले जाने में सक्षम पनडुब्बी से क्रूज मिसाइल बाबर-3 का सफल परीक्षण किया. मिसाइल की मारक क्षमता 450 किलोमीटर तक है. पाकिस्तानी सेना की मीडिया शाखा सर्विसेज पब्लिक रिलेशंस ने बताया कि बाबर-3 नामक मिसाइल का हिंद महासागर में अज्ञात स्थान से सफल परीक्षण किया गया. इसे पानी के अंदर ही चलते-फिरते मंच से छोड़ा गया, जिसने बिल्कुल सटीकता से निशाना पर प्रहार किया. बाबर-3 जमीन से दागी जानेवाली क्रूज मिसाइल (जीएलसीएम) बाबर-2 की समुद्री किस्म है, जिसका पिछले साल दिसंबर के प्रारंभ में सफल परीक्षण किया गया था. इससे पहले बाबर-1 और बाबर-2 का टेस्ट हो चुका है.

पानी में ही होगा नियंत्रण

 बाबर-3 एसएलसीएम में पानी के अंदर ही नियंत्रण की अत्याधुनिक प्रौद्योगिकियां हैं. इस मिसाइल में रडार एवं वायु रक्षा से बच निकलने जैसी क्षमता है. बाबर-3 एसएलसीएम जमीन पर हमला करने दौर में विभिन्न प्रकार के भारों को ले जाने में सक्षम है. वह परमाणु हमले की स्थिति में पलटवार करने में भी सक्षम है.

पाकिस्तान के पास समुद्र से मार कर सकने वाली परमाणु क्षमता वाली मिसाइल नहीं थी. हालांकि बाबर-3 मात्र 450 किलोमीटर तक ही मार कर सकती है, लेकिन फिर भी इसे अहम विकास माना जाना चाहिए.

पाकिस्तान का ये तकनीकी विकास एंटी-इंडिया है यानी इसे भारत की परमाणु क्षमता को देखते हुए विकसित किया गया है.

बाबर-3 का सफल परीक्षण पाकिस्तान की आत्मनिर्भरता का एक परिचायक है. यह परीक्षण भरोसेमंद न्यूनतम प्रतिरोध की नीति की दिशा में एक कदम है.

नवाज शरीफ, प्रधानमंत्री, पाकिस्तान

बाबर-3

450 किलोमीटर मारक क्षमता

अत्याधुनिक तकनीक से लैस

रडार से बच निकलने में सक्षम

परमाणु हमले को रोकने में भरोसेमंद

अग्नि-5

5000 किलोमीटर मारक क्षमता

1.5 टन परमाणु आयुध ले जाने में सक्षम

ध्वनि की गति से 24 गुना अधिक रफ्तार से निशाना साधेगा

भारत ने वर्ष 2008 में पनडुब्बी से परमाणु क्षमतावाले मिसाइल का सफल परीक्षण किया था और फिर वर्ष 2013 में क्रूज मिसाइल का भी सफल परीक्षण किया था. इसके अलावा, पिछलों दिनों भारत ने परमाणु क्षमता से लैस अग्नि-4 और अग्नि-5 मिसाइल का सफल परीक्षण किया था.

पनडुबब्बी से छोड़ी जा सकने वाली मिसाइल ख़तरनाक़ होती है क्योंकि ये छिपी हुई होती हैं और इसके बारे में पता नहीं लगता. यदि भारत ने कभी अपनी परमाणु क्षमता का इस्तेमाल करते हुए पाकिस्तान को तबाह भी कर दिया तो भी पाकिस्तान इस क्रूज़ मिसाइल के ज़रिए भारत पर हमला कर सकता है.

भारत के पास समुद्र, हवा और ज़मीन से मार करने वाली सभी तरह की मिसाइलें हैं. भारत ने हाल में परमाणु पनडुब्बी भी बनाई है.

भारत के पास समुद्र से मार कर सकने वाली ऐसी मिसाइलें हैं जिनकी रेंज 750 किलोमीटर है और वैज्ञानिक 3000-4000 किलोमीटर रेंज तक मार कर सकने वाली मिसाइलों पर काम कर रहे हैं. यानी भारत की परमाणु मिसाइल क्षमता पाकिस्तान से कहीं अधिक है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *