सरकारी अफसर ने लिखी डॉन अबू सलेम की लव स्टोरी, इस वजह से हैं चर्चा में

भोपाल. मुंबई बम विस्फोट कांड में 7 सितंबर को अबू सलेम को सजा सुनाई जानी है। इसी अबू सलेम की लव स्टोरी पर एक प्रशासनिक अफसर ने किताब लिखी जिसे पूरा करने के लिए वह सलेम के साथ जेल में रहना चाहता थे, लेकिन शासन से इस बात की परमिशन नहीं मिली। कौन है वह अफसर…

मध्यप्रदेश के गुना जिले में कार्यरत ADM नियाज अहमद खान कुख्यात डॉन अबु सलेम से मिलना चाहते थे।
-उन्होंने सरकार से इसके लिए स्पेशल परमिशन मांगी थी।
-अपने आवेदन में उन्होंने कहा था कि वो डॉन की लाइफ पर एक उपन्यास लिख रहे हैं। इसी सिलसिले में वो डॉन से मिलना चाहते हैं।
-एडीएम खान एक लेखक भी हैं। उनके उपन्यास का केंद्र डॉन की लवस्टोरी थी।
-अब तक चार नॉवल लिख चुके नियाज अहमद खान के मुताबिक, उनका अगला नॉवल डॉन अबू सलेम और उसकी प्रेमिका एक्ट्रेस मोनिका बेदी पर था।
नॉवल में ब्यूरोक्रेट्स के करप्ट सिस्टम पर प्रश्न
-इसी सिलसिले में वे एक महीने तक अबु सलेम के संग रहना चाहते थे।
-नियाज अहमद ने सरकार से अनुमति मांगी तो कलेक्टर ने इनकी एप्लीकेशन राज्य सरकार को फारवर्ड कर दी थी।
-उल्लेखनीय है कि नियाज अहमद ने अपने पिछले नॉवल में ब्यूरोक्रेट्स के करप्ट सिस्टम पर प्रश्न खड़े किए थे।
-अब इनका पांचवां नॉवल एक्शन और थ्रिलर है जिसका नाम लव डिमांड्स ब्लड है।
-इस नॉवल में 300 पन्ने थे जिसमें से 250 लिखे जा चुके थे। बाकी बचे 50 पन्नों को लिखने के लिए नियाज अहमद जेल जाना चाहते थे।
रसूख के दिनों के बारे में भी जानना चाहते थे
-अबु फिलहाल, मुम्बई की हाई सिक्योरिटी तालोजा जेल में बंद है।
-अहमद के मुताबिक, वे कैदियों की जिंदगी देखने के साथ-साथ, डान के अपराध की दुनिया में आने और उसके रसूख के दिनों के बारे में भी जानना चाहते थे।
-इन सबको पिरोने के बाद यह नॉवेल सामने आना था।
भोपाल में रह चुका है डॉन और उसकी गर्लफ्रेंड
-2005 में पुर्तगाल की राजधानी लिस्बन में भारत के मोस्ट वॉन्टेड अबु सलेम और बॉलीवुड एक्ट्रेस मोनिका बेदी को गिरफ्तार किया गया था।
-इसके कुछ समय बाद दोनों को फर्जी पासपोर्ट मामले में मुंबई पुलिस ने मध्य प्रदेश  पुलिस को सौंप दिया।
-इस दौरान सलेम को सेंट्रल जेल में और मोनिका बेदी को भोपाल के जहांगीराबाद थाने में रखा गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *