वृहद आर्थिक आंकड़ों से तय होगी बाजार की चाल

नई दिल्लीः इस सप्ताह शेयर बाजारों की चाल वृहद आर्थिक आंकड़ों, विदेशी निधियों के प्रवाह और वैश्विक संकेतों से निर्धारित होगी। बाजार विशेषज्ञों ने यह बात कही है। ट्रेड स्मार्ट ऑनलाइन के संस्थापक निदेशक विजय सिंघानिया ने कहा, "मुद्रास्फीति और अग्रिम कर संग्रह के आंकड़े चालू सप्ताह में बाजार के रुख को निर्धारित करेंगे। सोमवार को फरवरी महीने के लिए उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (सीपीआई) और थोक बिक्री मूल्य सूचकांक (डब्ल्यूपीआई) आधारित मुद्रास्फीति के आंकड़े घोषित किए जाएंगे।" इस बीच औद्योगिक उत्पादन का आंकड़ा लगातार तीसरे महीने नकारात्मक रहा। इसमें जनवरी में 1.5 प्रतिशत की गिरावट आई।

कैपिटल वाया ग्लोबल रिसर्च लिमिटेड के संस्थापक एवं सीईआे रोहित गाडिया ने कहा, "निकट भविष्य में बाजार सोमवार को घोषित होने वाले सीपीआई और डब्ल्यूपीआई आंकड़ों पर निर्भर करेगा तथा वैश्विक बाजारों से, विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों से और कच्चे तेल की कीमतों के उतार चढ़ाव से बाजार को दिशा मिलेगी।  अमरीकी फेडरल रिजर्व की 15 और 16 मार्च को 2 दिवसीय नीतिगत बैठक भी शेयर बाजार में कारोबार के रुख पर असर डालेंगे।

सैमको सिक्योरिटीज के सीईआे जिमित मोदी ने कहा कि बाजार का मिजाज एकदम बदल चुका है जो घोर निराशा की जगह उम्मीदों से लबरेज है। धारणा में आया बदलाव बाजार में उद्योगों में दृश्यमान है। मौजूदा समय का तेजडिय़ा रुख बाजार में थोड़ा तकनीकी सुधार लाएगा। हालांकि बाजार की अंतर्धारणा काफी मजबूत है। अगले कदम से पहले बाजार में सुगठन का दौर रह सकता है। पिछले सप्ताह शेयर बाजारों में तेजी रही। अनुकूल विदेशी बाजार के साथ निरंतर विदेशी पूंजी प्रवाह के कारण सैंसेक्स और निफ्टी में क्रमश: 72 अंक और 25 अंकों की तेजी रही। यह लगातर दूसरा सप्ताह था जब बाजार में तेजी रही।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *