भारत ने पाकिस्तान को दी 3-1 से करारी शिकस्त, एशिया कप हॉकी सेमीफाइनल

भारत ने 10वें एशिया कप हॉकी टूर्नामेंट में लगातार तीसरी जीत हासिल की है. रविवार को भारतीय टीम ने अपने चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान को 3-1 से मात दी. ढाका में खेले जा रहे टूर्नामेंट में इससे पहले भारत ने जापान को 5-1 से और बांग्लादेश को 7-0 से हराया था. ग्रुप-ए में 9 अंक के साथ शीर्ष पर रही भारतीय टीम सुपर फोर में पहुंच चुकी है.

4 अंक के साथ पाकिस्तानी टीम भी दूसरे दौर में खेलेगी. एशिया कप के इतिहास में भारत को पाकिस्तान पर महज दूसरी जीत मिली है. इससे पहले भारत ने 2003 के एशिया कप फाइनल में पाकिस्तान को 4-2 से हराया था. एशिया कप में पाकिस्तान ने 7 में से 5 बार भारत को हराया है. इंटरनेशनल हॉकी में भारत की पाकिस्तान पर यह लगातार छठी जीत रही.

पहले क्वार्टर में तेज हॉकी देखने को मिली. हालांकि दोनों ही टीमें गोल का खाता नहीं खोल पाईं. इस दौरान भारत ने जरूर प्रभावी खेल दिखाया. हालांकि अंतिम पलों में पाकिस्तान को पेनल्टी कॉर्नर मिला, लेकिन वह उसका फायदा नहीं उठा पाया. भारत को दूसरे क्वार्टर के शुरुआत में ही बढ़त मिल गई. 17वें मिनट में चिंगलेनसाना सिंह ने पहला गोल दागा. इस क्वार्टर में पाकिस्तान ने भी अच्छा खेल दिखाया, लेकिन उसका पेनल्टी कॉर्नर बेकार गया. गोलकीपर सूरज करकेरा ने कई अच्छे बचाव किए. हाफ टाइम तक भारत की 1-0 से बढ़त बरकरार रही.

तीसरे क्वार्टर में पांच मिनट के लिए पाकिस्तानी टीम 9 खिलाड़ियों के साथ ही खेली. उसके दो प्लेयर्स रिजवान सीनियर और अबु महमूद को यलो कार्ड मिले. इस दौरान पाकिस्तान ने बराबरी का मौका गंवाया. जबकि भारत भी पेनल्टी कॉर्नर पर गोल करने से चूका. इस क्वार्टर ने पाकिस्तान के पेनल्टी कॉर्नर को भारत बेकार करने में कामयाब रहा. आखिरकार 44वें मिनट में रमनदीप सिंह ने भारत को 2-0 से आगे कर दिया. इसी के बाद 45वें मिनट में हरमनप्रीत सिंह ने पेनल्टी कॉर्नर को गोल में तब्दील कर भारत को 3-0 से बढ़त दिला दी.

भारत के डिफेंस की सावधानी में कमी के चलते पाकिस्तान ने पहला गोल दागा. अली शान ने 49वें मिनट में वह गोल दागा. इस क्वार्टर में पाकिस्तान ने बेहद आक्रामक शुरुआत की, हालांकि उसका पेनल्टी कॉर्नर जाया गया. खेल के अंतिम क्षणों में भारत को तीन पेनल्टी कॉर्नर मिले, लेकिन वह उसका फायदा नहीं उठा पाया. भारत की 3-1 से बढ़त निर्णायक साबित हुई. भारत को इस मुकाबले में पांच पेनल्टी कॉर्नर मिले, जिसमें से वह एक को ही कनवर्ट कर पाया. जबकि पाक ने 4 पेनल्टी कॉर्नर हासिल किए, लेकिन सभी बेकार गए.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *