केरल, तमिलनाडु और पुडुचेरी में मतदान के लिए लाइन में लगे वोटर, सुपर स्टार रजनीकांत ने डाला वोट

नई दिल्ली: तमिलनाडु, केरल और पुडुचेरी में विधानसभा चुनाव के तहत सोमवार सुबह 7 बजे से शाम 6 बजे तक मतदान हुआ। तमिलनाडु, केरल और पुडुचेरी में विधानसभा चुनावों के तहत सुबह से ही लोग मतदान केंद्रों पर उमड़ने लगे थे। अभिनेता रजनीकांत समेत कई दिग्‍गजों ने वोट डाले। केरल और तमिलनाडु में बहुकोणीय मुकाबला है। मुख्‍यमंत्री जे. जयललिता और ओमन चांडी को कड़ी टक्कर मिलने की उम्मीद जतायी जा रही है। जयललिता की टक्कर डीएमके चीफ एम.करुणानिधि और ओमन चांडी की टक्कर वीएस अच्युतानंद के साथ है।

लाइव अपडेट:-

– चुनाव आयोग ने कहा है कि तमिलनाडु, केरल और पुडुचेरी में हुए विधानसभा चुनावों में आज मतदान प्रतिशत 2011 के चुनावों की तुलना में कम रहा। हालांकि, मतदान प्रतिशत के बढ़ने की संभावना है क्योंकि ये आंकड़े अंतिम नहीं हैं।

– उप चुनाव आयुक्त उमेश सिन्हा ने यहां संवाददाताओं को बताया कि तमिलनाडु में चुनाव शांतिपूर्ण रहा जहां 5. 82 करोड़ मतदाताओं के 69.19 प्रतिशत ने वोट डाला। उन्होंने बताया कि 2011 के विधानसभा चुनावों में ये आंकड़े 78. 12 प्रतिशत थे और 2014 के लोकसभा चुनाव में 73.85 प्रतिशत मतदान हुआ था। उन्होंने बताया कि राज्य के आठ जिलों में बारिश होने के बावजूद बड़ी तादाद में मतदाता वोट डालने पहुंचे। दिन के वक्त बाद में मौसम बेहतर हो गया।

– केरल में शाम छह बजे तक उपलब्ध आंकड़ों के मुताबिक 71 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया। साल 2011 में यह आंकड़ा 75. 12 प्रतिशत और 2014 के लोकसभा चुनाव में यह 74. 02 प्रतिशत था। चुनाव आयोग के महानिदेशक सुदीप जैन ने बताया कि मतदान से पहले अधिकारियों ने 24 करोड़ रुपये नकद जब्त किए जो कि राज्य में एक रिकॉर्ड है।

– पुडुचेरी में शाम छह बजे तक 71 प्रतिशत मतदान हुआ जो 2011 के विधानसभा चुनाव में 75.12 प्रतिशत था। साल 2014 के लोकसभा चुनाव में यह 74. 02 प्रतिशत दर्ज किया गया था।

– केरल में 6pm तक 71% मतदान हुआ। चुनाव आयोग ने कहा, मतदान का प्रतिशत और बढ़ सकता है।

– पुड्डुचेरी में शाम 4 बजे तक 71.08% मतदान हुआ।

– तमिलनाडु में 5 PM तक 69.19% मतदान हुआ।

– पुड्डुचेरी में 3pm तक 67.62% मतदान हुआ।

– तमिलनाडु में दोपहर 3 बजे तक 63 फीसदी वोटिंग

– केरल में 3pm तक 57.83% मतदान हुआ।

– तमिलनाडु में दोपहर 1 बजे तक 42 फीसदी वोटिंग

– केरल में दोपहर 1 बजे तक 45 फीसदी वोटिंग

– तंजावुर और नागपट्टनम जिलों के कई हिस्सों में हो रही है बारिश

-रामनाथपुरम, मदुरै, डिंडीगुल, तिरूचिरापल्ली, कुड्डालोर में बारिश

-कई जिलों में भारी बारिश की वजह से मतदान में विघ्न पैदा हुआ

 –पुडुचेरी में 9.41 लाख मतदाताओं में से 30 प्रतिशत मतदाताओं ने सुबह साढ़े 11 बजे तक अपने मताधिकार का प्रयोग किया।

-केरल विधानसभा की 140 सीटों पर हो रहे चुनाव में दोपहर तक 28.46 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया।

–  एक वरिष्ठ निर्वाचन अधिकारी के अनुसार, 18.3 प्रतिशत मतदाताओं ने मतदान किया।

–   तमिलनाडु में शुरूआती दो घंटे में 18 प्रतिशत मतदान

 

– चेन्नई के स्टेला मैरिस कॉलेन में सुपरस्टार रजनीकांत ने वोट डाला और सभी से वोट डालने की अपील की।

– चेन्नई के गोपालपुरम में मतदान करने पहुंचे एम. करुणानिधि ने कहा कि हमारी जीत की ज्यादा संभावना है।

– कमल हासन, पूर्व रक्षामंत्री एके एंटनी ने वोट भी अपने मताधिकार को प्रयोग किया है।

– जयललिता ने अपने मत का प्रयोग कर लिया है।

– प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज सुबह ट्वीट कर ज्यादा से ज्यादा वोट करने की अपील की है।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी राजेश लाखोनी ने बताया कि उन जिलों में मतदान अपेक्षाकृत धीमा रहा जहां भारी बारिश हो रही है।उन्होंने कहा कि रामनाथपुरम, मदुरै, डिंडीगुल, तिरूचिरापल्ली, कुड्डालोर, तंजावुर और नागपट्टनम जिलों के कई हिस्सों में मध्यम से भारी बारिश हो रही है ।

लाखोनी ने कहा कि चेन्नई में पुलिआंतोप क्षेत्र बारिश से प्रभावित हुआ।उन्होंने कहा,‘बारिश की वजह से कुछ हिस्सों में बिजली गुल हो रही है और कुछ समस्याएं आ रही हैं। हालांकि मतदान रोकने की कोई आवश्यकता नहीं है, मतदान की प्रक्रिया जारी रहेगी ।’संवाददाताओं के यह पूछने पर कि क्या बारिश की वजह से मतदान का समय आज शाम एक घंटे के लिए बढ़ाया जा सकता है, लाखोनी ने कहा, ‘अपराह्न एक-दो बजे तक स्थिति पर विचार करने के बाद, यदि जरूरी हुआ तो उच्च निर्वाचन अधिकारियों को उचित सिफारिशें की जाएंगी ।’

रामनाथपुरम में मतदान का प्रतिशत 20..21 के बीच रहा और सलेम, नमक्कल तथा तिरूवल्लूर में 30 प्रतिशत से अधिक मतदान हुआ। उन्होंने कहा कि तमिलनाडु के किसी भी हिस्से से हिंसा या कानून व्यवस्था से जुड़ी किसी समस्या की कोई खबर नहीं है।

तमिलनाडु में 232 विधानसभा सीटों के लिए हो रहे मतदान में आज सुबह नौ बजे तक 18 प्रतिशत से ज्यादा मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया। एक वरिष्ठ निर्वाचन अधिकारी के अनुसार, 18.3 प्रतिशत मतदाताओं ने मतदान किया। निर्वाचन आयोग ने मतदाताओं को रिश्वत दिए जाने के आरोपों के मद्देनजर अरावकुरिची और तंजौर में मतदान टाल दिया है। निर्वाचन आयोग के फैसले के बाद, अब 234 विधानसभा क्षेत्रों में से 232 विधानसभा क्षेत्रों में मतदान हो रहा है। अरावकुरिची और तंजौर में मतदान 23 मई को होगा और मतगणना 25 मई को होगी। शेष 232 निर्वाचन क्षेत्रों के लिए मतगणना 19 मई को होगी।

इन विधानसभा चुनावों को मिनी आम चुनाव माना जा रहा है।भाजपा तमिलनाडु और केरल में पदार्पण करने में जुटी है जबकि तमिलनाडु में अब तक सत्ता क्रमश: अन्नाद्रमुक और द्रमुक के बीच तथा केरल में कांग्रेस नीत संयुक्त लोकतांत्रिक मोर्चा (यूडीएफ) और माकपा नीत वाम लोकतांत्रिक मोर्चा (एलडीएफ) के बीच ही आती जाती रही है।तमिलनाडु में अन्नाद्रमुक सुप्रीमो जयललिता और करूणानिधि के अलावा चुनावी मैदान में मुख्यमंत्री पद के दो अन्य उम्मीदवार- अभिनेता से नेता बने डीएमडीके-पीडब्ल्यूएफ-टीएमसी गठजोड़ के विजयकांत और पीएमके के अंबुमणि रामदास भी हैं।

राज्य में 3740 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं। कुल 234 निर्वाचन क्षेत्रों में से 233 में ही मतदान होगा क्योंकि चुनाव आयोग ने करूर के अरवाकुरिची विधानसभा क्षेत्र में मतदान मतदाताओं को रिश्वत देने से संबंधित उम्मीदवारों और राजनीतिक दलों की गैर कानूनी गतिविधियों के कारण 23 मई के लिए टाल दिया है। इस सीट के मतों की गिनती 25 मई को होगी।

चुनाव अधिकारियों ने तमिलनाडु में बिना लेखा जोखा के 100 करोड़ रूपए से अधिक नकद जब्त किया जो उन पांच राज्यों में सबसे अधिक हैं जहां पिछले महीने विधानसभा चुनाव हुए हैं। एक लाख से अधिक पुलिस और अद्धसैनिक कर्मी राज्य में 65,000 मतदान केंद्रों की चौकसी संभालेंगे। राज्य में बहुकोणीय मुकाबला है और उनमें भाजपा भी है।

जयललिता लगातार दूसरी बार सत्ता में पहुंचने की जुगत में हैं जबकि 2011 के विधानसभा चुनाव और 2014 के लोकसभा चुनाव में करारी मात खा चुके करूणानिधि अपनी पार्टी द्रमुक को सत्ता में पहुंचाने की कोशिश में जुटे हैं। ये दोनों क्रमश: आर के नगर और तिरूवरूर सीटों से चुनाव लड़ रहे हैं।

आर के नगर निर्वाचन क्षेत्र में सबसे अधिक 45 उम्मीदवार हैं तथा द्रमुक (शिमला मुथुचोलझान) तथा वीसीके (वसंती देवी) ने भी जयललिता से टक्कर लेने के लिए महिला उम्मीदवार चुनाव मैदान में उतारा है। भाजपा के एम एन राजा भी चुनाव मैदान में हैं।

भाजपा के उम्मीदवारों में उसके राष्ट्रीय सचिव एच राजा और प्रदेश अध्यक्ष तमिलिसाई सौंदर्यराजन शामिल हैं।

खुद को विकल्प के तौर पर तीसरे मोर्चे के रूप पेश करते हुए डीएमडीके, पीपुल्स वेलफेयर फ्रंट :वाइको के एमडीएमके, माकपा, भाकपा, वीसीके: और जी के वास की अगुवाई वाली तमिल मनीला कांग्रेस के गठबंधन ने द्रमुक और अन्नाद्रमुक दोनों को ही निशाना बनाया है जिन्होंने हाल के दशकों में एक के बाद एक कर शासन किया। इस गठबंधन ने बदलाव पर जोर दिया।

तमिलनाडु को आम तौर पर इस बात के लिए जाना जाता है कि वहां 1967 से दो द्रविड़ दल – द्रमुक और अन्नाद्रमुक को एक एक कर निर्वाचित होते रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *