साल भर पर्यटकों से आबाद रहते थे दुनिया के ये टूरिस्ट प्लेस, कोरोना के डर से पड़े वीरान

कोरोनावायरस के संक्रमण के डर से दुनिया के चर्चित ऐतिहासिक पर्यटन स्थल और धार्मिक महत्व के स्थान सूने हो गए हैं। चीन, जापान, इटली, दक्षिण कोरिया ने ट्रांसपोर्ट के साधन बंद कर दिए। चीन में तो नए साल में भी लोग कम घूमने निकले।

इटली के शहर वेनिस में सुनसान टूरिस्ट प्लेस।

विश्व स्वास्थ्य संगठन की चेतावनी के बाद लोगों ने दूसरे देशों में जाना भी बंद कर दिया। 2019 में वैश्विक टूरिज्म इंडस्ट्री करीब 125 लाख करोड़ रुपए की थी पर कोरोना के चलते वैश्विक पर्यटन उद्योग को 1.58 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा का नुकसान होगा। वहीं, कोरोना के चलते अमेरिका के पर्यटन उद्योग को अगले चार साल में 74 हजार करोड़ रुपए का घाटा उठाना पड़ेगा।

चीन की फॉर्बिडन सिटी (बीजिंग) भी सूनी हो गई है। यहां पर 1.67 करोड़ पर्यटक घूमने जाते हैं। तियानमेन चौक जैसे चर्चित स्थलों पर लोग नजर नहीं आ रहे। यही हाल वेटिकन का सेंट पीटर्स स्क्वैयर है। हर हफ्ते पोप यहां पर लोगों से मिलते हैं, उन्हें संबोधित करते हैं। यहां पर रोजाना 20 हजार पर्यटक घूमने आते हैं।

वेनिस में नहरें सूनी पड़ी हैं, जबकि इन दिनों कार्निवल टाइम चल रहा है। ज्यादा पर्यटक इन्हीं दिनों में आते हैं। यहां हर साल तीन करोड़ से ज्यादा पर्यटक पहुंचते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *