भारत ने कोरोना से लड़ने की ऐसे की तैयारी, 157 देशों में फैल चुका है संक्रमण

कोरोनावायरस से बचने के लिए दुनियाभर के देश लगातार खुद में सिमट रहे हैं। 50 देश खुद में ही कैद हो गए हैं। भारत में भी मंगलवार से ईयू, तुर्की और ब्रिटेन के यात्रियों के प्रवेश पर पाबंदी लगा दी गई है। दुनिया में मानव इतिहास का सबसे बड़ा बचाव अभियान अब और तेज हो गया है।

भारत में भी बिगड़ सकते हैं कोरोना संक्रमण से हालात। Photo: ANI

केंद्र सरकार ने लोगों को 31 मार्च तक बस, ट्रेन और विमान में यात्रा नहीं करने की सलाह दी है। लोगों को एक-दूसरे से कम से कम 1 मीटर दूरी बनाकर रखने को कहा है। साथ ही, देशभर में स्कूल-कॉलेज, सिनेमा हॉल, जिम, स्विमिंग पूल, मॉल और म्यूजियम आदि भी 31 मार्च तक बंद रहेंगे।

स्वास्थ्य मंत्रालय के वरिष्ठ अफसर ने कहा कि जहां तक संभव हो निजी क्षेत्र के संस्थान अपने कर्मचारियों को घर से काम करने की इजाजत दें। भारत ने ईयू, तुर्की और ब्रिटेन से आने वाले यात्रियों के प्रवेश पर 18 मार्च से पाबंदी लगा दी है। कोरोना का संक्रमण 157 देशों में फैल चुका है। इसके खिलाफ लड़ाई में भारत सहित 50 से ज्यादा देशों ने दूसरे देशों के लोगों के अपने यहां आने पर पाबंदी लगा रखी है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना के मरीजों का इलाज कर रहे डॉक्टरों और नर्सों की सोमवार को ट्विटर पर तारीफ की। विदेश से लौटने के बाद स्क्रीनिंग प्रक्रिया से गुजरे लोगों ने ट्विटर पर अपने अनुभव साझा किए थे।

प्रधानमंत्री मोदी ने उन्हें री-ट्वीट करते हुए लिखा- हमारे डॉक्टरों, नर्सों और स्वास्थ्यकर्मियों ने काफी मेहनत की है। हमें उन पर नाज है। हम हमेशा इस योगदान की कद्र करेंगे। एक अन्य यात्री का अनुभव री-ट्वीट करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने लिखा- लोगों को स्वस्थ रखने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ी जा रही है। एक यूजर ने कहा कि डलास, न्यूजर्सी और फ्रैंकफर्ट से अच्छे इंतजाम दिल्ली में मिले।

भारत की 4 सीमाएं सील, 200 साल में पहली बार बंद हुआ मुंबई का सिद्धि विनायक मंदिर

-भारत ने नेपाल, बांग्लादेश, भूटान और म्यांमार सीमा सील कर दी है। 14 मार्च से विदेशियों के प्रवेश पर पाबंदी है।
-सेना 1,500 की क्षमता वाले क्वारंटाइन सेंटर स्थापित कर रही है। एयरपोर्ट के पास तीन होटल के 108 कमरे क्वारंटाइन के लिए तय।
-52 लैब रोज 5 हजार टेस्ट कर रहीं। एयरपोर्ट पर 12 लाख लोगों की स्क्रीनिंग हो चुकी। ईरान, चीन और जापान से 900 लोगों को निकाला।
-दिल्ली के किसी समारोह में 50 से ज्यादा लोग एकत्रित होने पर रोक। शाहीन बाग और जामिया यूनिवर्सिटी के प्रदर्शनों पर भी यह लागू होगा। शादियों के लिए मिलेगी छूट।
-महाराष्ट्र में घर में अलग रखे संदिग्ध मरीजों की पहचान के लिए बाएं हाथ पर स्टैंप लगाई जाएगी।
-मुंबई का सिद्धि विनायक मंदिर अनिश्चितकाल के लिए बंद। 200 साल में पहली बार मंदिर बंद हुआ।
-उज्जैन के महाकाल मंदिर में भस्म आरती के दर्शन और कोलकाता के बेलूर मठ में सभाओं पर रोक।
-पुरी के जगन्नाथ मंदिर में दर्शन के लिए मास्क अनिवार्य।
-एएसआई ने ताजमहल सहित सभी संरक्षित स्मारक और संग्रहालय 31 मार्च तक बंद किए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *