अमेरिकी राष्ट्रपति ने सोशल प्लेटफार्म को बताया अपना विरोधी, ये है वजह

वॉशिंगटन : अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप इस बार फेसबुक पर नाराज होते नजर आये. अमेरिकी राष्ट्रपति ने फेसबुक को ट्रंप विरोधी बताया. दरअसल, कुछ ही दिन पहले यह सोशल मीडिया कंपनी अमेरिका में 2016 के राष्ट्रपति चुनाव में रुसी हस्तक्षेप की जांच कर रही कांग्रेस की टीम को सामग्री मुहैया कराने को सहमत हुई थी जिसे ट्रंप के भड़कने को इसी से जोड़ कर देखा जा रहा है.

उत्तर कोरिया ने कहा- कुत्ते का भौंकना और अमेरिका की धमकी में कोई अंतर नहीं

ट्रंप ने बुधवार को ट्वीट कर अपना गुस्सा जताया. ट्रंप ने अपने ट्विटर वॉल पर लिखा, फेसबुक हमेशा से ट्रंप विरोधी रहा है. फेक न्यूज, न्यूयॉर्क टाइम्स और वाशिंगटन पोस्ट भी ट्रंप विरोधी थे. मिलीभगत रही है ? ट्रंप ने अगले ट्वीट में लोगों के अपने साथ होने का दावा किया.
ट्रंप ने लिखा कि लोग प्रो-ट्रंप हैं. अमेरिकी राष्ट्रपति ने दावा किया कि उन्होंने 9 महीने में जितना करके दिखाया है उतना किसी अमेरिकी राष्ट्रपति ने नहीं किया. ट्रंप का बयान फेसबुक के उस कदम के एक दिन बाद आया है जिसमें सोशल मीडिया कंपनी ने अमेरिकी राष्ट्रपति चुनावों की जांच में मदद करने की बात कही है.

मोदी और ट्रंप की मुलाकात से चिढ़ा पाकिस्तान कहा- अमेरिकी राष्ट्रपति बोल रहे हैं ‘भारत की भाषा’

गौरतलब है कि फेसबुक ने कहा है कि वह कांग्रेस जांचकर्ताओं को 3000 विज्ञापनों की सामग्री उपलब्ध कराएगा. यह विज्ञापन एक रूसी एजेंसी द्वारा खरीदे गये थे. जानकारों की मानें तो फेसबुक अपने प्लैटफॉर्म पर राजनीतिक विज्ञापनों को और अधिक पारदर्शी बनाने के लिए ऐसा कदम उठा रहा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *